porno

bakırköy escort

Earthquake in Delhi: दिल्ली-NCR में भूकंप के झटके, रिक्टर पैमाने पर 4.5 मापी गई तीव्रता

नई दिल्ली, एएनआइ। Earthquake in Delhi: दिल्ली-एनसीआऱ में एक बार फिर से भूकंप के झटके महसूस कि गए हैं। भूकंप के झटके दिल्ली समेत गुरुग्राम, फरीदाबाद, नोएडा और गाजियाबाद में भी महसूस किए गए हैं।नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी ( National Centre for Seismology) के अनुसार, इसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.5 मापी गई। भूकंप शुक्रवार शाम 7 बजकर 50 सेकेंड पर आया। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के अनुसार, दक्षिण-पश्चिम में 63 किमी की दूरी पर 4.5 तीव्रता का भूकंप दर्ज किया गया। भूकंप शुक्रवार शाम 7 बजकर 50 सेकेंड पर आया।

या।

भूकंप के झटके पांच से छह सेकेंड तक लगे। बीते तीन महीने में यह सबसे तेज भूकंप का झटका है। जिसकी तीव्रता 4.7 रही। इससे पहले दिल्ली-एनसीआर में 3.5 की तीव्रता की भूकंप के झटके महसूस किए गए थे।

घरों से बाहर निकले लो

मिली जानकारी के मुताबिक, दिल्ली से सटे सोनीपत में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। जबकि रेवाड़ी और नारनौल में भूकंप के झटके लगे। भूकंप महसूस होते ही लोग घरों से बाहर निकल गए। जबकि जो लोग दफ्तर में काम कर रहे वे लोग सहम गए। 

क्या खतरे में है दिल्ली-एनसीआर

भूकंप के लिहाज से दिल्ली-एनसीआर इन्‍टेंसिटी जोन-4 में आता है। ऐसे में यहां पर तेज गति का भूकंप आया तो बड़ी जानमाल की हानि का खतरा है। भूवैज्ञानिकों के मुताबिक, भूकंप के लिहाज से दिल्‍ली के साथ यूपी-हरियाणा से सटे जिले में भी बेहद संवेदनशील है। दिल्ली और इसके आसपास के इलाके को जोन-4 में रखा है। यहां 7.9 तीव्रता तक का भूकंप आ सकता है। ऐसे में बड़ा नुकसान हो सकता है।

उधर, डॉ. विनीत के. गहलोत (मुख्य वैज्ञानिक, एनजीआरआइ) की मानें तो दिल्ली एनसीआर में आ रहे भूकंपों को लेकर अध्ययन चल रहा है। उन्होंनें बताया कि भूजल का गिरता स्तर भी एक वजह सामने आ रही है। अन्य कारण भी तलाशे जा रहे हैं।

क्यों आ रहे भूकंप के झटके

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी ((IIT) के विशेषज्ञों की मानें तो दिल्ली-एनसीआर में लगातार भूकंप के झटके आना बड़े भूकंप का संकेत हो सकता है। एक्सपर्ट का कहना है कि भूकंप के हल्के झटकों को चेतावनी के रूप में देखा जाना चाहिए।